• Home
  • उदयपुर में दर्जी की हत्या से बिगड़े हालात..

उदयपुर में दर्जी की हत्या से बिगड़े हालात..

Share Now

उदयपुर में दर्जी की हत्या से बिगड़े हालात..

 

 

 

देश-विदेश: राजस्थान में सांप्रदायिक हिंसा और तनाव थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। हालात यह हैं कि प्रदेश में तीन महीने की अंदर तीन बड़ी हिंसक घटनाएं सामने आ चुकी हैं। उदयपुर की घटना को छोड़कर राज्य में चार साल में छह बड़े दंगे हो चुके हैं। इधर, उदयपुर में दर्जी की गला रेतकर हत्या करने के बाद पूरे प्रदेश में इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई है। साथ ही सभी जिलों में धारा 144 भी लागू कर दी गई है। जिले के साथ ही थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू भी लगाया गया है।

आपको बता दे कि हत्या का मामला शहर के धानमंडी इलाके के भूत महल क्षेत्र का है। यहां कन्हैयालाल दर्जी की दुकान चलाता है। मंगलवार को वह अपने साथियों के साथ दुकान पर काम कर रहा था। इस दौरान बाइक पर आए दो मुस्लिम युवक उसे कपड़े का नाप देने लगे। उसके बाद अचानक हथियार से हमला कर दिया। करीब सात वार करने के बाद उसकी मौत हो गई। हमले के दौरान बीच-बचाव करने आया उसका साथी ईश्वर सिंह भी गंभीर रूप से घायल हो गया है। उसे इलाज के लिए शहर के एमबी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

बता दे कि वारदात को दोपहर करीब 3.30 बजे अंजाम दिया गया था। हत्या के कुछ देर बाद हिंदू संगठनों ने इलाके में विरोध शुरू कर दिया। इसके बाद शहर में इंटरनेट बंद किया गया फिर सात थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू लगाया गया। फिर पूरे राजस्थान में कर्फ्यू और धारा 144 लागू कर दी गई। वहीं देर शाम पुलिस ने राजसमंद जिले से दोनों हत्यारों को गिरफ्तार कर लिया। राजस्थान सरकार ने मृतक के परिजनों को 31 लाख रुपये का मुआवजा देने की घोषणा की है। साथ ही मृतक के परिवार के 2 सदस्यों को संविदा नौकरी देने का भी एलान किया है। बता दें कि नुपुर शर्मा के समर्थन में एक पोस्ट शेयर करने को लेकर युवक की हत्या की गई है। हालांकि यह पोस्ट मृतक कन्हैलाल ने नहीं उसके आठ साल के बेटे ने शेयर किया था।

 

 

 

Leave A Comment