• Home
  • संसद का मानसून सत्र आज से, 18 दिन में 32 बिल लाने की तैयारी में केंद्र..

संसद का मानसून सत्र आज से, 18 दिन में 32 बिल लाने की तैयारी में केंद्र..

Share Now

संसद का मानसून सत्र आज से, 18 दिन में 32 बिल लाने की तैयारी में केंद्र..

देश-विदेश: संसद का मानसून सत्र सोमवार यानी आज से शुरू होने रहा है, 12 अगस्त तक चलने वाले इस सत्र में संसद की 18 बैठकें होंगी। इस दौरान सरकार 32 बिल सूचीबद्ध करवाए हैं, इनमें से 24 नए बिल होंगे। फिलहाल संसद में 35 बिल पेंडिंग हैं, जिनमें से आठ बिलों को सरकार ने फिर से विचार के लिए लाएगी। संसद का मानसून सत्र इसलिए खास रहने वाला है, क्योंकि 18 जुलाई को ही राष्ट्रपति चुनाव के लिए मतदान होना है।

 

संसदीय कार्य मंत्री प्रहलाद जोशी का कहना हैं कि 32 में से 14 बिल बिल्कुल तैयार हैं। चार बिल ऐसे हैं जो विचार के लिए स्टैंंडिंग कमेटी के पास भेजे गए थे और उनकी रिपोर्ट भी आ चुकी है। इन बिलों में मैंटीनेंस एंड वेलफेयर ऑफ पेरेंट्स एंड सीनियर सिटीजंस एमेंडमेंट बिल, एंटी मेरीटाइम पायरेसी बिल, नेशनल एंटी डोपिंग बिल और वाइल्डलाइफ प्रोटेक्शन एमेंडमेंट बिल शामिल हैं।

 

पेरेंट्स एंड सीनियर सिटीजंस बिल के जरिए सरकार बच्चे, रिश्तेदार व अभिभावकों की परिभाषा में विस्तार करेगी और अभिभावकों को भरणपोषण के लिए दी जाने वाली राशि की ऊपरी सीमा खत्म करेगी। एंटी डोपिंग बिल के जरिए सरकार खेलों में एंटी-डोपिंग गतिविधियों को नियमित करने और नेशनल एंडी डोपिंग एजेंसी को वैधानिक दर्जा प्रदान करेगी। वाइल्डलाइफ प्रोटेक्शन एक्ट में संशोधन के जरिए कानून के तहत संरक्षित वन्य जीव प्रजातियों की संख्या बढ़ाई जाएगी।

कई महत्वपूर्ण बिल लाने की तैयारी में सरकार..

वित्त मंत्रालय ने इंसोल्वेंसी एंड बैंकरप्सी बिल सूचीबद्ध कराया है इसका उद्देश्य सीमा पार दिवालियापन के प्रावधान सहित अनेक संशोधन के साथ इंसोल्वेंसी एंड बैंकरप्सी कोड को मजबूत करना है। मानसून सत्र के पहले दिन लोकसभा की कार्यवाही में दो बिल सूचीबद्ध हैं जिनमें एक है फैमिली कोर्ट्स एमेंडमेंट बिल जो 1984 के फैमिली कोर्ट्स बिल में संशोधन के लिए पेश किया जा रहा है जबकि दूसरा बिल है-द इंडियन एंटार्कटिक बिल। जबकि राज्यसभा में पहले दिन ‘द वेपन्स ऑफ मास डेस्ट्रक्शन एंड देयर डिलीवरी सिस्टम बिल’ सूचीबद्ध है।

Leave A Comment