• Home
  • केदारनाथ, बद्रीनाथ मार्ग कई घंटों तक रहा बंद, गौरीकुंड और सोनप्रयाग में रोके गए यात्री..

केदारनाथ, बद्रीनाथ मार्ग कई घंटों तक रहा बंद, गौरीकुंड और सोनप्रयाग में रोके गए यात्री..

Share Now

केदारनाथ, बद्रीनाथ मार्ग कई घंटों तक रहा बंद, गौरीकुंड और सोनप्रयाग में रोके गए यात्री..

उत्तराखंड: गौरीकुंड घोड़ा पड़ाव के पास पहाड़ी से मलबा और बोल्डर आने पर केदारनाथ पैदल मार्ग चार घंटे बाधित रहा। लोक निर्माण विभाग गुप्तकाशी, एनडीआरएफ, डीडीआरएफ की टीम ने चार घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद रास्ता खोला। जिसके बाद जिला प्रशासन ने 10,800 यात्री केदारनाथ भेजे। जबकि, दस हजार यात्रियों को गौरीकुंड और सोनप्रयाग में रोका गया। जिन्हें आज केदारनाथ भेजा जाएगा।

आपको बता दे कि बीती रात हुई बारिश के चलते मंगलवार सुबह छह बजे गौरीकुंड से एक किलोमीटर आगे पहाड़ी से मलबा आने से पैदल मार्ग अवरुद्ध हो गया। शुक्र रहा कि इस दौरान कोई यात्री वहां से नहीं गुजर रहा था। रास्ता बंद होने से बड़ी संख्या में तीर्थयात्री गौरीकुंड और सोनप्रयाग में फंस गए। सूचना मिलने पर पुलिस, आईटीबीपी, एनडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंची और बोल्डर और मलबा हटाने का काम शुरू किया। करीब दस बजे रास्ता खोला गया।

यात्रा मार्ग अवरुद्ध होने के बाद प्रशासन ने गौरीकुंड और सोनप्रयाग में लगभग दस हजार यात्रियों को रोक दिया। साथ ही केदारनाथ के दर्शन कर वापस लौट रहे यात्रियों को जंगलचट्टी और भीमबली में भी रोका गया। केदारनाथ पैदल मार्ग के साथ ही हाईवे पर भी कई स्थानों पर पत्थर गिरने का खतरा बना हुआ है।

बद्रीनाथ हाईवे दो घंटे रहा बंद..

वही पंचपुलिया के पास सड़क चौड़ीकरण के दौरान पहाड़ी से बोल्डर गिर जाने से बद्रीनाथ हाईवे दो घंटे तक बंद रहा। रास्ता बंद हो जाने से सड़क के दोनों तरफ करीब पांच किमी से लंबा जाम लग गया।

Leave A Comment